Letter to parents from principal

प्रिय अभिभावक,

हम सभी जानते है कि कोरोना महामारी के चलते हम लौकडाउन में है। यह समय हम सब के लिए अनमोल है। लेकिन घर में मिला हुआ यह समय हमारे बच्चों के लिए किसी वरदान से कम नही है, बच्चों को अपनी इच्छाओं को पूरा करने का इससे सुनहरा अवसर दुबारा नही मिलेगा। आप अपने हुनर, कौषल एंव क्षमताओं को तराषतें हुए नए भविष्य की राह चुन सकते है। आइए हम उन छोटी-छोटी बातों की चर्चा करते है जिन्हे आप घर बैठे कर सकते है।

अपनी सुबह का प्रांरभ हल्की शारीरिक व्यायाम, ध्यान एंव योग से करें, स्ट्रेचिंग एंव जॉइट मोंमेट के बाद पॉच से दस मिनट का ध्यान (मेडिटेषन) करें। अपने माता पिता, ईष्वर ओर गुरूजनों का मन ही मन शुक्रिया अदा करें। यह क्रिया ना सिर्फ आपको शारीरिक एंव मानसिक आनंद देगी बल्कि आपकी एकाग्रता धैर्य एंव स्मरण शक्ति को बढ़ाने में सहायता करेगी। 21वीं शताब्दी क्षमता विकास ओर कौषल विकास की सदी है। वह समय बीत गया जब 100 में से 100 नंबर लाने वाले बच्चें सबसे होनहार होते थे, अब नंबरो का स्थान स्किल्स ने ले लिया है। मै आप सभी से अपील करूंगा की इस समय का उपयोग अपनी क्षमताओं का विकास करने में करें। इस समय बच्चों को उन गतिविधियों में शामिल करें जिससे उनमें कम्युनिकेषन स्किल्स, लीडरषिप एंव टीम भावना विकसित करने की क्षमता का प्रबल हो सकें।

मै आपसे यह भी निवेदन कंरूगा कि अपनी रूचि के क्षेत्र में रिसर्च एंव अनुसंधान को अवष्य बढ़ावा दें। लौकडाउन की स्थिति में कोई ना कोई इनोवेषन अवष्य करें। आज इस समय हमारें स्कूल लौकडाउन के चलते बंद है इसलिए इस समय का उपयोग सबसे ज्यादा डिजिटल माध्यमों से हो सकता है, डिजिटल माध्यम को ध्यान में रखते हुए मोहता पब्लिक स्कूल ने भी ऑनलाइन क्लासेंज शुरू कर दी है। जिसका प्रथम अध्याय 25 मार्च को व्हाट्सएप ग्रुप (Whatsapp Group) में डाला गया था। हमारे स्कूल के टीचर्स द्वारा बच्चों को व्हाट्सएप के द्वारा नोट्स व उनसे संबंधित प्रष्न उत्तर दिए जा रहे है। इसके साथ ही कुछ फॉर्मूले, वर्ड मिनिंग तथा कुछ विडियोंस भेजे जा रहे है अतः इस अवसर पर बच्चों और अभिभावकों से अपील कंरूगा कि बच्चों को इन असाइनमेंट्स के द्वारा पढ़ने का मौका दिया जाए तथा दिए गए प्रष्न उत्तर को एक नोटबुक में लेखन किया जाए। हमें इस कठिन समय को अवसर में बदलतें हुए देष के हर घर को लर्निग एंव स्किल सेंटर के रूप में बदल देना चाहिए ताकि कि हम फिजिकल क्लासरूम से उठकर डिजिटल क्लासरूम के द्वारा तेजी से हमारी शिक्षण पद्वति को आगे बढ़ा सके ।

मै शुक्रगुजार हंू हमारे CBSE के सचिव श्री अनुराग त्रिपाठी का जिनके द्वारा यह संवाद किया गया है जिसके कुछ मुख्य अंश मैने आप लौगों के समक्ष प्रस्तुत किए है आप सभी से मेरा अनुरोध है कि हमारे द्वारा किए गए प्रयास जिसके द्वारा हम आपके बच्चों को शिक्षा से जोडें रखना चाहते है तथा इस संबंध में अगर कोई सुझाव या किसी तरह का कोई सवाल हो तो आप मुझे (शैलेन्द्र पोरवाल), प्राचार्य, मोहता पब्लिक स्कूल को व्हाट्सएप मैसेज के द्वारा नंबर 6377214979 पर दोपहर 2ः00 बजे से शाम 4ः00 बजे के बीच कर सकते है। हमारा पूरा स्टाफ अपनी ओर से प्रयास कर रहा है कि बच्चों को किसी ना किसी रूप से शिक्षा से जोड़ कर रखा जाए।
इसी क्रम में मेरे द्वारा आज शाम से हर दिन अंग्रेजी बोलने व लिखने के लिए टिप्पणियॉं, कार्यपत्रक और ऑडियों दिए जाएगें। इस समय का सदुपयोग अपने बच्चों एंव आपके मानसिक व शारीरिक विकास को विकसित करने में सहयोग करें । ये संस्कार एंव वयवहार जो हम अपनी व्यस्त जीवन शैली के कारण अपने बच्चों में अगर नही दे पाएं तो उन्हे विकसित कर हम इस समय का उपयोग कर सकते है। आप सभी अभिभावको से अनुरोध है कि हमारे इस प्रयास को सफल बनाने में मदद करें।

शैलेन्द्र पोरवाल

Principal, Mohta Public School